संत कबीर दास जी के 350+ प्रसिद्ध दोहे अर्थ सहित – Sant Kabir Das Ji Ke Dohe in Hindi

Sant Kabir Das ji ke prasiddh dohe

दुख में सुमिरन सब करे, सुख में करे न कोय । जो सुख में सुमिरन करे, दुख कहे को होय ।। कबीर दास जी कहते हैं की दु :ख में तो परमात्मा को सभी याद करते हैं लेकिन सुख में कोई याद नहीं करता। जो …

Read moreसंत कबीर दास जी के 350+ प्रसिद्ध दोहे अर्थ सहित – Sant Kabir Das Ji Ke Dohe in Hindi